पानीपत रिफाइनरी के कर्मचारी और अधिकारी मिलकर रिफाइनरी को सुचारु रूप से चला रहें हैं ताकि इस अंचल में पैट्रोलियम पदार्थों की कमी न हो

समाचार निर्देश  पानीपत – लॉकडाउन की स्थिति में भी जहां एक ओर पानीपत रिफाइनरी के कर्मचारी और अधिकारी मिलकर रिफाइनरी को सुचारु रूप से चला रहें हैं ताकि इस अंचल में पैट्रोलियम पदार्थों की कमी न हो, तो वहीं दूसरी तरफ टाउनशिप की सम्मानित महिलाएं भी इस संकट की घड़ी में अपना भरपूर सहयोग दे रही हैं । कमाल हुसैन टाउनशिप की महिलाओं द्वारा  एक अनोखा प्रयास करते हुए कपड़े के मास्क का निर्माण किया जा रहा है जो सभी के लिए अनुकरणीय है । इस नेक कार्य के लिए जो कच्चे माल अर्थात कपड़े की व्यवस्था करना था, उसके लिए फंड की व्यवस्था ऑफिससर्स क्लब, इम्प्लाईज क्लब तथा विप्स ने की है । टाउनशिप में ये महिलाएं अपने-अपने घर से ही मास्क बनाने के काम को अंजाम दे रही हैं । इस कार्य में लेडिज क्लब की सदस्य एवं अन्य सम्मानित गृहणियाँ कार्यरत हैं । आज मास्क वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ रिफाइनरी की प्रथम महिला श्रीमती सुनंदा सिकदर,अध्यक्ष ऑफिसर वाइफ़ क्लब द्वारा सफाई कर्मचारियों एवं अन्य मजदूरों को कपड़े के मास्क को वितरित करके किया गया.इस अवसर पर श्रीमती महुआ बासु, श्री एस के त्रिपाठी, श्री आर एस डोगरा, श्रीमती  वर्तिका रस्तोगी, पीआरपीसी ऑफिसर एसोशिएशन से  श्री शैलेंद्र सिन्हा तथा श्री  अजय बहादुर सिंह, कर्मचारी यूनियन से श्री संपूरन सिंह तथा  श्री प्रेम सैनी,कल्याण केंद्र(इम्प्लाईज क्लब)से श्री विजय सिंह तथा श्री सुधीर चौधरी तथा  वो सभी  महिलाएँ उपस्थित थी जिन्होंने यह मास्क तैयार किया है। श्रीमती महुआ बासु,मुख्य महाप्रबंधक(मानव संसाधन) ने सभी  गृहणियों को इस नेक काम के लिए धन्यवाद दिया। गौरतलब है कि कपड़े के बने ये मास्क रिफाइनरी के आसपास के गाँवों में रह रहे ठेका मजदूर तथा जरूरतमंदों को वितरित किए जा रहे हैं । आजकल बाहर निकलने पर मास्क अनिवार्य कर दिया गया है तथा मास्क पहनकर काफी हद तक कोरोना के खतरे को कम किया जा सकता है । कपड़े के बने इन मास्क को अच्छी तरह धोकर पुन: प्रयोग में भी लाया जा सकता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

समाचार निर्देश न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 9654140328
%d bloggers like this: