बारदाने की कमी व उठान ना होने से आढ़ती और किसान हुये परेशान।

* मंडी गेंहू से हुई फुल, प्रशासन के इंतजाम हुये फेल


समाचार निर्देश ब्यूरो  तरावड़ी  (राजकुमार खुराना) –  गेहूं की आवक में तेजी आने के जिला प्रशासन के इंतजाम कम पड़ गए हैं परिणाम यह हुआ कि मडी के आढ़तियों को बारदाना नहीं मिल रहा। जिसकी वजह से आढ़तियों को गेंहू की खरीद को रोकना पड़ रहा है। इस दौरान मंडी में गेहूं के ढेरों से अटी पड़ी है। बारदाना ना मिलने की वजह से आढ़तियों में नाराजगी है। उनका कहना है कि सरकार द्वारा 48 घंटे में लिफ्टिंग के दावे खोखले साबित हो रहे हैं। समय पर उठान ना होने से मंडी जाम की समस्या पैदा हो गई है। जानकारी के अनुसार नई अनाज मंडी में लगभग लाखों क्विंटल गेहूं की आवक हो चुकी है मंडी में 19 लाख कट्टो की जरूरत है। अभी तक आढ़तियों को सिर्फ 14 लाख कट्टो का बारदाना मिला है और इन कटटों का वितरण भी सही तरीके से नही हुआ। जिससे आढ़तियों मे रोष है। मंडी में खरीद कर तीन सरकारी एजेंसी मे हैफेड जूट के बारदाने मे खरीद कर रही है और डीएफएससी प्लास्टिक के कटटों मे खरीद कर रही है। आढ़ती अरूण कुमार, भास्कर लूथरा, अशोक कुमार, अमित बंसल, रिंकू बंसल, राजेश जैन व अन्य आढ़तियों का कहना है कि बारदाना न मिलने के कारण मजबूरन हमें तोल बंद करना पड़ रहा है। किसान लगातार गेहूं लेकर आ रहे हैं जिससे गेहूं के ढेर बढ़ते जा रहे हैं। अब गेंहू के ढेर सडक़ो पर लग गये है। आढ़तियों ने कहा कि खुले आसमान में हजारों क्विंटल गेहूं ऐसे ही पड़ा है और मौसम भी खराब होने की संभावना है अगर मौसम खराब हुआ तो भारी नुकसान हो सकता है। आढ़तियों ने मांग की है कि जल्द से जल्द बारदाना उपलब्ध करवाया जाये ताकि मौसम खराब होने से गेंहू का तोल हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

समाचार निर्देश न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 9654140328
%d bloggers like this: