देखो हर अस्पताल में मरीज़ 

लाचार विवश हैं पड़े 

अपनी बिमारियों से जूंझे हर

पल ओर लड़े।।

किसी के साथ परिवार का सहयोग

कोई अकेले ही खड़े।।

देश के महान बहुत से लोग मदद्

को कितना आगे बड़े।।

इन मदद् कर्ता रक्त दानवीरों को 

हम नाम ब्लड कार्डिनेटर जड़े।।

इनकी सेवा को नमन कर हम 

शीश बल झुक अड़े।।

कार्य एसा ब्लड कार्डिनेटर का 

तत्पर हर पल एक फोन पर बड़े।।

यहां फोन , वहां फोन कितनी जगह 

मदद् कि गुहार कर मरीज के लिए खड़े ।।

सफलता पाते तब जब किसी को मदद् 

दिला पूरी राहत संग कर्म में हीरे जड़े।।

एक सहयोग ओर मिल कर अटेंडर को

समझाते सभी चल बड़े।।

कहें जैसे आप अपनों के लिए परेशान

वैसे ही मजबूर लाखों खड़े।।

आओ थामो हाथ हमारा मानवता चेन में

समझ आज बहुत से अटेंडर ये बात 

 मदद् कर दूजों के लिए आगे बड़े।।

इसी तरह मानवता सेवा चेन 

मे सच प्रकाश हम भरे।।२।।

वीना आडवाणी तन्वी

नागपुर, महाराष्ट्र

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.