• विद्यार्थियों को बताया- चिट्टे- स्मैक के टीके लगाने वाले व्यक्ति का टीका कोई और ही निकालता है
  • विद्यार्थियों ने कहा- वे इस अभियान को जन जन तक पहुंचाएंगे

अम्बाला नशे पर सीधा प्रहार और जागरूकता कार्यक्रम को समर्पित प्रयास संस्था के संस्थापक, अम्बाला मंडल के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एवं हरियाणा राज्य स्वापक नियंत्रण ब्यूरो प्रमुख श्री श्रीकांत जाधव भारतीय पुलिस सेवा के दिशानिर्देशों एवं मार्गदर्शन में प्रत्येक दिन हरियाणा को नशा मुक्त करने के भरसक प्रयास किए।  इस कड़ी में आज औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान अम्बाला शहर के प्रांगण में एक दिवसीय 27वां जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया।  संसथान के प्राचार्य भूपिंदर सिंह सांगवान की अध्यक्षता में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। हरियाणा राज्य स्वापक नियंत्रण ब्यूरो में जागरूकता कार्यक्रम एवं पुनर्वास के प्रभारी के रूप में नियुक्त उप निरीक्षक डॉ. अशोक कुमार वर्मा इस जागरूकता कार्यक्रम के मुख्य वक्ता रहे। उन्होंने युवाओं को नशे से दूर रहने के लिए जागरूक करते हुए कहा कि प्रयास की कहानी वर्ष 2000 में फतेहाबाद से आरम्भ हुई थी जो आज विशालकाय वृक्ष का रूप ले चुकी है जिसका मुख्य लक्ष्य लोगों को नशे की दलदल से बहार निकालना है। उन्होंने विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उठो तो मिलकर सबको जगा दो, हर एक घर में सन्देश पहुंचा दो, समय रहते जागो और सबको जगा दो, अफीम चरस हीरोइन का नशा बुरा है, न जाने कितनो के प्राणों को हरा है। अब समय आ गया है कि प्रत्येक भारत का नागरिक नशे रुपी दानव का संहार करने के लिए जागरूक हो जाए। उन्होंने विभिन्न उदाहरण देकर चिट्टे, स्मैक आदि नशीले पदार्थों के सेवन के दुष्परिणामों पर चर्चा करते हुए कहा कि बहुत बार ऐसा हुआ है कि टीके लगा चुके व्यक्ति का टीका लगा रह जाता है और वह मृत्यु की गोद में समा जाता है। यह टीका कोई अन्य व्यक्ति ही निकालता है।  ब्यूरो द्वारा जारी हेल्पलाइन नंबर 9050891508 का वर्णन करते हुए बताया कि इस पर गुप्त सूचनाएं बिना किसी भय के दें और नशा छोड़ने वाले व्यक्ति सम्पर्क करें। कार्यक्रम के अंत में सभी विद्यार्थियों ने एक स्वर में जीवन में नशा न करने कि शपथ ली. इस अवसर पर शिक्षकगण एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे । 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.