समाचार निर्देश एस डी सेठी – गृह मंत्रालय ने कांवड यात्रा की सुरक्षा को लेकर खुफिया विभाग के इनपुट की रिपोर्ट के आधार पर कुछ कट्टरपंथियों द्वारा कांवड यात्रा पर हमला करने की जानकारी दी है।. इसके लिए मिनिस्ट्री आफ होम ने कयी राज्यों में बाकायदा सुरक्षा के मद्देनजर एडवायजरी जारी की गयी है। यह एडवायजरी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश, के लिए खासतौर पर सुरक्षा व्यवस्था को बढाने को कहा है। इसके अलावा रेलवे बोर्ड ने भी ट्रेनों की सुरक्षा को बढाने का भी निर्देश दिया है। एडवायजरी के मुताबिक बडी संख्या में पुलिस बल को कांवड यात्रा के दौरान तैनात किया जाना चाहिए। ज्ञात हो कि सावन माह की शुरूआत के पहले ही दिन से कांवड यात्रा का श्रीगणेश होता है। कडी सुरक्षा के बीच भगवान शिव के भक्तों की कांवड यात्रा प्रारंभ होती है। बडी संख्या में कांवडिये हरिद्वार गंगा का जल लेने के लिए पहुंचते हैं। कांवडिये हरिद्वार से गंगाजल लेकर अपने अपने शहर राज्य की ओर पैदल ही लंबी यात्रा करते हैं।प्रशासन का मानना है कि इस साल करीब 4 करोड कंवाडिये हरिद्वार पहुंचेंगे। उल्लेखनीय है कि पिछले दो साल से कोरोना की वजह से कांवड यात्रा नहीं हो सकी थी। बडी संख्या में शिव भक्तों की इस यात्रा के मद्देनज़र हरिद्वार और ऋषिकेश की सुरक्षा को बढा दिया गया है। जगह जगह पर सीसीटीवी कैमरों को लगाया गया है। ड्रोन तैनात किये गये हैं। सोशल मीडिया पर नजर रखी जा रही है। वहीं बाॅम्ब डिस्पोजल टीम, एंटी टेररिस्ट स्क्वाॅटको मेला क्षेत्र में तैनात किया गया है। गृह मंत्रालय के मुताबिक हरिद्वार और आसपास के इलाकों को 12 सुपर जोन, 31 जोन, 133 सैक्टर में बांटा गया है। वहां करीब 10 हजार जवानों को तैनात किया गया है।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.