• आकांक्षी जिला के अंतर्गत पैरामीटर स्वास्थ्य एवं पोषण पर है प्रशासन का विशेष फोकस
  • जिला में प्रत्येक माह के तीसरे शुक्रवार को मनाया जाएगा स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस

नूंह शौकीन कोटला – आकांक्षी जिला नूंह में स्वास्थ्य एवं पोषण अभियान को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य एवं पोषण अभियान की नोडल अधिकारी सलोनी शर्मा ने कहा कि आज जिला के विभिन्न 31 गांव में स्वास्थ्य एवं पोषण अभियान के तहत ग्रामीण स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस मनाया जाएगा । यह पोषण दिवस प्रत्येक माह के तीसरे शुक्रवार को विभिन्न गांव में मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस पोषण दिवस को सफल बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ महिला एवं बाल विकास विभाग एवं पंचायत विभाग , शिक्षा विभाग और विभिन्न एनजीओ साथ मिलकर कार्य करेंगे।    वी.एच.एन.डी./यू.एच.एन.डी. के सफल आयोजन हेतू स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास विभाग और पंचायती राज संस्थाओं के सहयोग से गर्भवती महिलाओं, शिशुओं, किशोर-किशोरियों में अनीमिया, कुपोषण और अन्य स्वास्थ्य सूचकों की गंभीर स्थिति को देखते हुए ग्राम/शहरी स्वास्थ्य पोषण दिवस प्रत्येक माह के तीसरे शुक्रवार को मनाये जाने का प्रावधान किया गया है। तय मासिक तिथि का निर्धारण महिला बाल विकास विभाग द्वारा किया गया है।       ग्राम / शहरी स्वास्थ्य पोषण दिवस के अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, जिला/ब्लॉक आशा समन्वयक एल.एच.वी., ए.एन.एम. तथा आशा और महिला एवं बाल विकास की ओर से आई.सी.डी.एस. कार्यक्रम अधिकारी, सी.डी.पी.ओ सुपरवाईजऱ, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी हैल्पर को प्रत्येक माह के तीसरे शुक्रवार को अलग-अलग गांव / स्लम एरिया में उपस्थित रहने चाहिएं। ग्राम / शहरी स्वास्थ्य पोषण दिवस मनाने के लिये सम्बंधित चिकित्सा अधिकारी, जिला आशा समन्वयक और ब्लॉक आशा समन्वयक पूर्णत: जिम्मेवार है, साथ ही समुदाय, महिला बाल विकास विभाग तथा ग्राम पंचायत के प्रतिनिधियों के साथ उनका समन्वय होना अति आवश्यक है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.