समाचार निर्देश एस डी सेठी – राजस्थान के उदय पुर में टेलर कन्हैयालाल की हत्या को तालिबानी तरीके से प्रदर्शित करने वाले गौस मोहम्मद और रियाज अत्तारी के पाकिस्तानी आतंकी संगठन (आईएसआईएएस) से जुडे होने का बडा खुलासा हुआ है। इसमें हत्या को अंजाम देकर जिस बाईक नंबर आरजे27एएस/2611का इस्तेमाल फरार होने में किया, वह मुम्बई हमले से जुडा 26/11 का नंबर है। हत्यारों ने इस नंबर प्लेट का विशेष रजिस्ट्रेशन 5000 रूपये बतौर रिश्वत देकर खरीदा था।गौस मोहम्मद ने तो पाकिस्तान में बाकायदा ट्रेनिंग की बात भी सामने आ रही है। वहीं दूसरा हत्यारा रियाज सूफा आतंकी संगठन के लिए काम करता था। वो भी आंतकी संगठनों के भी लिंक में था। पाकिस्तान कनेक्शन सामने आने के बाद उदयपुर में मर्डर की वारदात एक सोची समझी साजिश दिख रही है। (एनआईए) की पूछताछ में एक और बडा खुलासा हुआ कि दोनों हत्यारों के निशाने पर सिर्फ कन्हैया ही नहीं बल्कि एक और शख्स भी था। इस मामले में दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है। वे भी कन्हैया टेलर की हत्या में बराबर के भागीदारी थे। उनकी पहचान मोहसिन और आसिफ के तौर पर हुई है। इन्हीं हत्यारों ने दहशत फैलाने के लिए ही मर्डर करने का वीडियो वायरल किया था। अभी जांच में जुटी टीमें हैं, राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण(एनआईए) राजस्थान पुलिस का आतंकवाद निरोधी दस्ता(एटीएस) और स्पेशल प्रोटेक्शन गुरुप (एसओजी)। जबकि आज शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी से निलंबित नेता नूपुर शर्मा पर नाराजगी जताते हुए उदयपुर समेत देशभर में जो हुआ है उन सब के लिए नूपुर शर्मा जिम्मेदार है। उनकी टिप्पणी सबकी सुरक्षा के लिए खतरा बन गई है। कोर्ट की सख्त में नूपूर को सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने का आदेश दिया है। इसके बाद नूपुर शर्मा ने अपनी याचिका भी वापस ले ली है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.