समाचार निर्देश सोहना/ राजेन्द्र कुमार होटला – करीब 20 दिनों से भीषण गर्मी में टेंट के नीचे शिक्षा ले रहे विद्यार्थियों की मेहनत आखिरकार रंग लाई है। जिनकी स्कूल को अपग्रेड कराने की जिद्द सिरे चढ़ गई है। प्रदेश शिक्षा मंत्री के आश्वासन के बाद टेंट को उखाड़ दिया गया है। तथा विद्यार्थी अपने घर लौट गए हैं। जिनको अभयपुर स्कूल के शिक्षक अपग्रेड होने तक ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करेंगे। ऐसा होने से जहाँ विद्यार्थी काफी खुश हैं वहीं गाँव में जश्न का माहौल है।  विदित है कि खण्ड के गाँव दमदमा के विद्यार्थी करीब 20 दिनों से अभयपुर स्कूल में शिक्षा न लेकर गाँव में ही टेंट के नीचे पढ़ रहे थे। जिनको गाँव के शिक्षित युवा शिक्षा दे रहे थे। जिनमें मेट्रिक व बारहवीं के करीब 200 विद्यार्थी शामिल थे। ऐसे विद्यार्थी दमदमा स्कूल को अपग्रेड किये जाने की माँग पर अड़े थे। उक्त निर्णय गाँववासियों व विद्यार्थियों ने अभयपुर स्कूल में रोजमर्रा मारपीट घटनाओं के कारण लिया था। उक्त मामले को लेकर कई पंचायतें भी आयोजित हो चुकी थीं। परन्तु विद्यार्थी व अभिभावक अड़े रहे थे। 

  • शिक्षा मंत्री ने दिया आश्वासन

मंगलवार को दमदमा के प्रबुद्ध लोग प्रदेश शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर से मिले थे। तथा समस्त घटना बतलाकर दमदमा स्कूल को अपग्रेड किये जाने की गुहार लगाई थी। जिनकी माँग को स्वीकार करते हुए मंत्री ने जून माह के अंत तक स्कूल को बारहवीं तक अपग्रेड किये जाने का आश्वासन दिया है। इस अवसर पर सरपंच श्योराज खटाना, पहलवान सतबीर खटाना, पूर्व सरपंच विजय, वीरेंद्र, विजय खटाना, सूबेदार गोपीचंद आदि मौजूद थे।

  • विद्यार्थी ऑनलाइन शिक्षा लेंगे

बुधवार को जिला शिक्षा अधिकारी इंदु बोकन ने दमदमा गाँव में पहुँचकर ग्रामीणों को समझाया तथा सभी विद्यार्थियों को ऑनलाइन शिक्षा दिलाये जाने का आश्वासन दिया है। जिनको अभयपुर के शिक्षक पढ़ाएंगे। अधिकारी के आश्वासन पर गाँववासियों ने टेंट को उखाड़ दिया है। तथा विद्यार्थी अपने घर चले गए हैं। 

  • मेहनत लाई रंग

दमदमा गाँव के स्कूल को अपग्रेड कराने में विद्यार्थियों व गाँववासियों की मेहनत रंग लाई है। जिसके चलते गाँव में खुशी का माहौल है। विद्यार्थी भी अपग्रेड किये जाने के आश्वासन से काफी खुश नजर आ रहे हैं। जिनको अब गाँव में ही शिक्षा मिल सकेगी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.