पांचवें टेस्ट में तीन दिन तक ब्रिटिश घराने में गरज रही ग्रुप इंडिया चौथे दिन पूरी तरह पस्त नजर आई। भारतीय टीम 245 रन पर ऑल आउट हो गई और इंग्लैंड को 378 रन का लक्ष्य मिला। ऐसा लग रहा था कि लक्ष्य बहुत बड़ा था, फिर भी भारतीय गेंदबाजों को पहले इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाजों ने धोया। एलेक्स लीज़ और जैक क्रॉली ने पहले विकेट के लिए 107 रन की साझेदारी की, हालांकि इसके बाद 3 बल्लेबाज़ 2 रन के अंदर वापस आ गए और ऐसा लग रहा था कि भारत मैच में वापस आ गया है, फिर भी बात नहीं बनी। जॉनी बेयरस्टो और जो रूट ने पूरे मैच को बदल कर रख दिया। दोनों के बीच 150 रन का संगठन था। रूट 76 और बेयरस्टो 72 रन बनाकर नाबाद हैं।

फिलहाल मैच के आखिरी दिन इंग्लैंड को जीत के लिए सिर्फ 119 रन की जरूरत है। अगर ऐसा होता है तो यह भारत के खिलाफ चौथी पारी में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड होगा। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया के खिलाफ 1977 में 339 रन का लक्ष्य हासिल किया था। फिलहाल ऐसा लग रहा है कि यह रिकॉर्ड 45 साल बाद टूटेगा।

इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाजों ने मुख्य विकेट के लिए 107 रन जोड़े और इंग्लैंड के समर्थन में मैच अपने नाम कर लिया।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.