समाचार निर्देश एस डी सेठी – महाराष्ट्र की सियासत में पिछले एक पखवाडे से चल रहा शतरंज का खेल खासा चौकाने वाला है। शिवसेना के प्यादे रहे  एकनाथ शिंदे ने अपने  ही राजा  उद्धव ठाकरे के खिलाफ शह और मात के खेल में आखिर मात दे दी। उनकी महाराष्‍ट्र के राज सिंहासन में बतौर मुख्यमंत्री  आज गवर्नर राजनिवास में  ताजपोशी हो जायेगी। भाजपा महाराष्ट्र के अध्यक्ष देवेंद्र फण्डवीज ने प्रैस को यह जानकारी देकर एक झटके में मीडिया समेत सभी दलों को भी दातों तले उंगली दबाने को मजबूर कर दिया है। पूर्व सीएम देवेंद्र फण्डवीज ने कहा कि शिवसेना के हिंदुत्व की बालासाहब ठाकरे की विरासत पर भाजपा का सैक्रीफाईस है। फण्डवीज को सीएम और एकनाथ शिंदे को डिप्टी सीएम की लगाई जा रही अटकलों पर विराम लग गया है। कल शुक्रवार को गोवा में रूके  हुए तमाम बागी गुट के विधायक भी महाराष्ट्र में पहुंच जाएंगें। महाराष्ट्र के राज्यपाल कौशियारी एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री पद की राजभवन में शपथ दिलाएंगें। उल्लेखनीय है कि हिंदुस्तान की सियासत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काल को ऐतिहासिक ही माना जाएगा। देश का प्रधानमंत्री जो खुद कभी चाय बेचा करते थे। देश के वजीर हैं। वहीं राष्ट्रपति पद पर एक बेहद ही पिछडे समाज की आदिवासी महिला द्रौपदी मुर्मू की ताज पौशी होने जा रही है। वहीं महाराष्ट्र की राजनीति ने खासी करवट मारी है। महाराष्ट्र के इतिहास में पहली बार कभी  एक आटोचालक रहा शख्स एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री का पद देकर नरेंद्र मोदी ने वाकई एक इतिहास रच दिया है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.