समाचार निर्देश एस डी सेठी – अन्तरराष्ट्रीय ओलंपिक दिवस के मौके पर नई दिल्ली स्थित इंटरनेशनल यूथ होस्टल, चाणक्य पुरी में योगेश कुमार द्वारा लिखित पुस्तक “किकबाॅक्सिंग फ्राॅम बेसिक टू प्रो” किताब का विमोचन मेजर जर्नल डाॅ. जीडी. बख्शी ने किया।हालांकि इस पुस्तक विमोचन कार्यक्रम के चीफ गेस्ट , भारत सरकार में केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर को भी आना था। लेकिन अति व्यस्तता के कारण वे नहीं आ सके। वहीं समाजिक कार्यकर्ता कुंवर रानी रितु सिंह (महाराजा हरि सिंह) जम्मू आदि भी शिरकत नहीं कर पाये। समारोह का कुशल संचालन फेडरेशन के प्रभारी योगेश सिंह ने किया। कार्यक्रम के बीच में ही तमाम खेल कोच समेत , पत्रकार राजवरत को मोमेंटों देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर मौजूद अन्य अतिथियों में प्रमुखतः पवन यादव, चीफ पैट्रन किकबाॅक्सिंग महासंघ, संजय कुमार, लेनिन मीडिया पब्लिकेशन से दीपक जैन, फेडरेशन आफ इंडियन इंडस्ट्री, डाॅ. शक्ति शरद, द्रोणाचार्य अवार्डी शिव सिंह, स्वागत नंदा,लीगल एडवाईसर (केएफआई) भी मंच पर मौजूद थे। बुक रचायता योगेश ने बताया कि इस किताब की अधिकतर तकनीकी चीजे द्रोणाचार्य शिव सिंह की निगरानी में पूरी हुई है। उन्होंने इस बुक का सारा श्रेय शिव सिंह को दिया। योगेश ने कहा कि किकबाॅक्सिंग खेल का संबंध पंच सामने वाले खिलाडी पर जडने होते हैं। प्रत्येक दो या तीन पंच के बाद एक किक भी जडनी होती है। जिससे कि एक कॉम्बिनेशन दिखाई दे। नियम के मुताबिक कोई भी खिलाडी लगातार पंच नहीं कर सकता है। नियम के विरूद हैं तो रेफरी की तरफ से चेतावनी दे कर नंबर काट सकता है। ज्ञात हो कि यह खेल करीब 150 से ज्यादा देशों में खेला जाता है। योगेश के मुताबिक 2005-06 में स्कूल गेम्स फेडरेशन आॅफ इंडिया(एसजीएफआई) में शामिल हो गया था। यह बुक विश्व में पहली बुक है जिसमें इस खेल से जुडे 13 चैप्टर हैं। बुक में बेहतरीन तरीके से एक एक स्किल को चित्रों के जरिये समझाया गया है। बुक से खेल की तमाम बारीक से बारीक जानकारियां खिलाडी समेत कोच भी ले सकेंगें।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.