सरदार कर्मपालसिंह सवाली/जगदीश बुनकरबांसवाड़ा – मंच के नगर अध्यक्ष लक्ष्मीकांत भावसार के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने कल्ला को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम 14 सूत्रीय ज्ञापन देकर देश में ओबीसी की जातिगत जनगणना करने , सामाजिक आर्थिक व जातिगत जनगणना 2011 के आंकड़े सार्वजनिक किए जाने, राज्य में मिलने वाला ओबीसी को 21 प्रतिशत और एमबीसी को 5 प्रतिशत आरक्षण अनुसूचित क्षेत्र में लागू कराने राज्य में मिलने उम्र व प्रतिशत की छूट के प्रावधान को लागू करवाने , मांग पत्र में बताया गया कि अनुसूचित क्षेत्र में ओबीसी-एमबीसी की जनसंख्या 21 से 25 प्रतिशत होने के बावजूद आरक्षण से वंचित रखा गया है। रीट भर्ती 2021 में राजस्थान के पूरे राज्य में रहने वाले ओबीसी – एमबीसी वर्ग को चयन व पात्रता में 5 प्रतिशत की छूट दी गई है (आदेश क्रमांक प.7 (13)प्रारंभिक शिक्षा /आयो/ 2019 दिनांक 16.12 .2020) लेकिन उक्त छूट से टीएसपी का ओबीसी – एमबीसी वर्ग वंचित है, छूट का प्रावधान लागू करवाने की मांग की गई। साथ ही राजस्थान के सभी नगर निकाय व पंचायत समिति मुख्यालय पर ज्योतिबा फुले व सावित्री फुले के नाम पर चौराया निर्माण कर मूर्ति लगाने तथा प्रत्येक जिले में एक एक विद्यालय इन महान समाज सुधारक के नाम से बनवाए जाने की मांग रखी । अनुसूचित क्षेत्र के पंचायती राज संस्थाओं में सदस्यों के पदों पर ओबीसी एमबीसी को जनसंख्या के अनुपात में आरक्षण दिया जाए , मंडल आयोग की समस्त सिफारिशों को लागू करवाया जाए , टीएसपी क्षेत्र में ओबीसी एमबीसी की जनगणना की जावे तथा राज्य में ओबीसी की जनसंख्या 52 प्रतिशत से अधिक होने की वजह से ओबीसी आरक्षण 52 प्रतिशत करवाया जावे । प्रतिनिधि मंडल में ललित कलाल, जयंत पाटीदार, सर्वेश दर्जी , विनोद माली , रोनक ,फौजी हेमन्त भोई , कंवर लाल गुर्जर, हर्षित कंसारा , योगेश टेलर आदि ने ओबीसी की मांगों को पूरा करने की मांग की है। उक्त जानकारी ओबीसी अधिकार मंच के संदेश कलाल ने दी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.