• हरियाणा कला परिषद द्वारा राजकीय महिला महाविद्यालय में 27 जून से 12 जुलाई तक किया गया कार्यशाला का सफल आयोजन
  •  शिक्षा के साथ सांस्कृतिक विधाओं में हिस्सा लेकर कैरियर निर्माण को दें विकल्प: डीआईपीआरओ बिजेंद्र कुमार
  •  हरियाणा कला परिषद कला प्रतिभाओं को तराशने के लिए प्रयासरत: महावीर गुड्ड
  • प्रतिभागी छात्राओं ने समापन समारोह को महकाया मनोहारी एकल एवं समूह नृत्यों की प्रस्तुति से

सोनीपत समाचार निर्देश उमेश कुमार –  हरियाणा कला परिषद के तत्वावधान में राजकीय महिला महाविद्यालय सोनीपत में आयोजित लोक नृत्य सांस्कृतिक कार्यशाला के समापन समारोह में प्रतिभागी छात्राओंं को बतौर मुख्य अतिथि सम्मानित करते हुए जिला सूचना एवं जन संपर्क अधिकारी (डीआईपीआरओ) बिजेंद्र कुमार ने उन्हें उच्चतम शिक्षा हासिल करने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के साथ छात्राओं को सांस्कृतिक विधाओं में हिस्सा लेकर अपने अंदर छिपी प्रतिभा को भी निखारना चाहिए। इससे उनके कैरियर निर्माण को अतिरिक्त विकल्प मिलेगा, जिससे वे स्व-रोजगार की दिशा में भी कदम बढ़ा सकती हैं।

नटराज थियेट्रिकल ग्रुप के सहयोग से मुरथल अड्ड स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के साथ संचालित किये जा रहे राजकीय महिला महाविद्यालय में 27 जून से 12 जुलाई तक लोक नृत्य सांस्कृतिक कार्यशाला का सफल आयोजन किया गया, जिसमें करीब 50 छात्राओं ने हिस्सा लिया। कार्यशाला में विख्यात कलाकार सत्यवान सरोहा ने छात्राओं को लोक नृत्य का प्रशिक्षण दिया। विशेष बात यही रही कि कार्यशाला में हिस्सा लेने वाली लगभग छात्राएं ऐसी थी जिन्होंने कभी मंच पर प्रस्तुति नहीं दी। ऐसी छात्राओं को उन्होंने तराशकर बेहतरीन कलाकार बनने की राह पर अग्रसर किया। इसकी झलक समापन समारोह में छात्राओं की समूह एवं एकल नृत्य की प्रस्तुतियों में भी देखने को मिली। छात्राओं ने एक से एक बेहतरीन एवं मनोहारी प्रस्तुतियों से समापन समारोह को महका दिया। समापन समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में पधारे हरियाणा कला परिषद के हिसार जोन के निदेशक महावीर गुड्ड ने भी छात्राओं की दमदार प्रस्तुतियों का लोहा मानते हुए मुक्त कंठ से प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि हरियाणा कला परिषद कला प्रतिभाओंं को तराशने के लिए प्रयासरत है। हरियाणा कला परिषद के कार्यक्रम अधिकारी विकास शर्मा ने भी विशिष्ट अतिथि की भूमिका का निर्वहन करते हुए कहा कि छात्राओं में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। आश्यकता है उन्हें निखारने और अवसर प्रदान करने की, जिसके लिए परिषद प्रभावी रूप से कार्यरत है। लोक नृत्य सांस्कृतिक कार्यशाला के समापन समारोह की अध्यक्षता कर रहे महाविद्यालय के प्राचार्य डा. दिलबाग सिंह जाखड़ ने इस आयोजन के लिए हरियाणा कला परिषद व नटराज थियेट्रिकल ग्रुप का विशेष आभार व्यक्त किया। साथ ही उन्होंने कहा कि छात्राओं को हर क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए अवसर और प्रोत्साहन दिया जाएगा। मंच का कुशल संचालन कर रहे प्रोफेसर डा. सुभाष सिसोदिया ने महाविद्यालय की सांस्कृतिक समिति की ओर से सभी अतिथियों का अभिनंदन और धन्यवाद किया। इस मौके पर कार्यशाला के प्रशिक्षक सत्यवान सरोहा ने सभी अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। इस दौरान महाविद्यालय के उप-प्राचार्य नरेश आंतिल सहित शिक्षण व गैर-शिक्षण कर्मचारी मौजूद थे।


इन छात्राओं को पदक पहनाते हुए प्रमाण पत्र भेंट किये गये:
लोक नृत्य सांस्कृतिक कार्यशाला के समापन समारोह में प्रतिभागी छात्राओं को डीआईपीआरओ बिजेंद्र कुमार, प्राचार्य डा. दिलबाग सिंह जाखड़ तथा विख्यात कलाकार एवं निदेशक महावीर गुड्डïू ने पदक पहनाते हुए प्रमाण पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। इनमें बीए प्रथम वर्ष की छात्रा दीपांशी, दीप्ति, तन्नू, कोमल, साक्षी, कविता, तनिका, शीतल, रवीना, पूजा व शिवानी तथा बीए द्वितीय वर्ष की खुशबू, चंचल, शालू, ज्योति, अंजलि, प्रवेश, मोनिका, आशू, प्रीति व भावना और बीकॉम प्रथम वर्ष की हर्षिता तथा बीकॉम ऑनर्स प्रथम वर्ष की ज्योति, नैन्सी, प्रिया, नीतू, लक्ष्मी व दीपाली शामिल रही।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.