• गौतम बुद्ध व डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित व माल्यार्पण कर उन्हें याद किया।

समाचार निर्देश सोहना / राजेन्द्र कुमार होटला – बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर दमकल उपकेन्द्र के सामने स्थित  अम्बेडकर भवन मे दुनिया को शांति, प्रेम, आपसी भाईचारे व ज्ञान  के प्रतीक भगवान गौतम बुद्ध की जयंती सोमवार को  सादगी से मनाई गई। साथ ही गौतम बुद्ध व डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित व माल्यार्पण कर उन्हें याद किया। इस दौरान डॉ भीमराव अम्बेडकर मिशन सोसायटी सोहना के प्रधान एडवोकेट मुकेश कुमार (मोगली) कहा भगवान बुद्ध के उपदेश आज भी प्रासंगिक है। शांति के प्रतीक भगवान बुद्ध ने अपना सारा जीवन समाज की भलाई में लगाया। लोगों के उद्धार के लिए उन्होंने अपने राज्य तक का त्याग कर दिया था। पूर्णिमा के दिन ही भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था, इसलिए इस दिन को बुद्ध पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है।उन्होंने बताया कि इसी दिन भगवान बुद्ध को बोधि वृक्ष के नीचे तप करने से बुद्धत्व अर्थात ज्ञान की प्राप्ति हुई थी और इसी दिन भगवान बुद्ध ने अपने शरीर का त्याग किया था। इसी को महापरिनिर्वाण कहा जाता है। इसी कारण से बुद्ध पूर्णिमा का दिन सारे संसार के लिए खास अहमियत रखता है। साथ ही कहा कि बुद्ध पूर्णिमा पर हमें भगवान गौतम बुद्ध के अनमोल विचारों से अपना जीवन को सफल बनाया जाना चाहिए। इस अवसर पर मूलचंद नम्बरदार, अमर सिंह, उमराव, चरण सिंह, सरपंच तेजपाल आदि मौजूद रहे

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.