• कॉलोनी कबीर धर्मशाला में वार्षिकोत्सव सत्संग समारोह मुख्याथिति डॉ जगबीर पवार व समाजसेवी ओमवीर सिंह पंवार की अध्यक्षता बड़ी ही धूमधाम से मनाया ।


पानीपत कमाल हुसैन – दीनानाथ कॉलोनी पानीपत में सद्गुरु कबीर धर्मशाला समाज सेवा समिति (रजि0) द्वारा कबीर धर्मशाला में वार्षिक सत्संग समारोह बड़े ही धूमधाम व हर्षोउल्लास के साथ भव्य रूप परमपूज्य महंत सुंदर दास के मार्गदर्शन में मनाया गया । समारोह में समाज के बड़े प्रबुद्ध समाजसेवी डॉ जगबीर सिंह पंवार मुख्याथिति के रूप में उपस्थित रहे । वही कार्यक्रम अध्यक्षता हरियाणा कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता व समाजसेवी ओमवीर सिंह पंवार ने की । मुख्याथिति डॉ जगबीर पवार ने कहा कि आज सद्गुरु कबीर साहेब के वाणी वचनों के प्रचार प्रसार की ओर ज्यादा करने की जरूरत है ताकि उनके वाणी वचन को प्रत्येक व्यक्ति तक पहुच सके । कबीर साहेब सभी मानव जाति के कल्याण हेतु सभी सही एक सत्य का मार्ग बताया । कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे समाजसेवी ओमवीर सिंह पंवार ने उपस्थित सभी श्रद्धालुओं बको सम्बोधित करते हुए कहा कि संसार मे एक ही ऐसे सम्राट हुये जिनको सद्गुरु कबीर साहेब के नाम जाना जाता है।  उन्होने कहा कि आज हम सभी उनके दिखाये रास्ते चलने की आवश्यकता है क्योंकि सद्गुरु कबीर साहेब ने सभी कुप्रथाओ पर अपनी वाणी वचनों के माध्यम से रोककर एक मानवता का संदेश सभी देकर एक सूत्र में पिरोने का कार्य किया था संगठन के सरपरस्त भगत राजकुमार कटारिया ने कहा कि हमारी आने वाली युवा पीढ़ी को कबीर साहेब जी विचारो अवगत कराने की जरूरत है सद्गुरु कबीर साहेब ने हिन्दू मुस्लिम सभी के कल्याण का एक ही  रास्ता बताया वह सत्य का मार्ग । कार्यक्रम में काफी समाजसेवी संस्थाओ के माध्यम से समाजसेवा में अग्रसर रहकर समाज को अपनी सेवायें प्रदान करने वाले व्यक्ति को फूलमालाओं व एक स्मृति चिन्ह देकर करीब 50 व्यक्तिओ को सम्मानित भी किया । समिति के समस्त पदाधिकारियो अथितिओ फूलमालाओं से जोरदार स्वागत कर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया । मंच संचालन मास्टर देवेंद्र पवार ने किया । इस धार्मिक कार्यक्रम में महंत सूंदर दास साहेब, महंत ज्ञानेश्वर दास साहेब, महंत देवनारायण दास, महंत गुरुमुख दास, महंत गंगा दास व सन्तगणो के अलावा समिति के प्रधान ऋषिपाल, भगत रमेश कटारिया, राजपाल तुंवर, धीरज गौड़, प्रमोद कुमार, महाबीर सिंह, राजीव पवार, महेंद्र गहल्याण, रामकुमार, लालचन्द दुहन, राजकुमार, जयभगवान, सत्यपाल नरवाल, मास्टर नवीन मुडाल, रमेश कुमार आदि काफी संख्या महिलाये व भगतजन मोजूद थे ।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.