समाचार निर्देश सिद्धार्थ राव, नई दिल्ली – हरियाणा में खनन माफिया ने मंगलवार को एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया, जहां नूह में अवैध खनन रोकने पहुंचे डीएसपी पर डंपर चढ़ा दिया गया। जिससे उनकी मौत हो गई। घटना के तुरंत बाद हरियाणा पुलिस भी एक्शन में आई और आरोपियों के खिलाफ बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन शुरू किया। खबर है कि जब पुलिस टीम खनन माफिया को पकड़ने गई थी, तो उन्होंने उस पर भी हमला बोल दिया। जिसमें एक आरोपी को गोली लगी है। जानकारी के मुताबिक सीआईए इंचार्ज सुरेंद्र सिद्धू अपनी टीम के साथ आरोपियों को पकड़ने निकले थे। उन्होंने एक आरोपी को गिरफ्तार किया, लेकिन इससे पहले उनकी खनन माफिया से मुठभेड़ हुई। जिसमें गोली लगने के कारण वो घायल हो गया। उसका इलाज करवाया जा रहा है। फिलहाल अन्य आरोपियों की तलाश में अभी भी पुलिस का सर्च अभियान जारी है।

 

ऐसे दिया वारदात को अंजाम

 

घटना गुरुग्राम से सटे नूंह जिले के तावडू थाना क्षेत्र के गांव पचगांव की है। मंगलवार सुबह डीएसपी (तावडू) सुरेंद्र सिंह बिश्नोई को पचगांव से सटी अरावली पहाड़ी पर अवैध रूप से खनन की सूचना मिली थी। इस पर वो चार लोगों के साथ वहां पर पहुंचे। मौके पर पुलिस को देख खनन कर रहे लोगों के बीच हड़कंप मच गया। पुलिस टीम को देख पहाड़ी के पास खड़े डंपर चालक और खनन में लगे लोग भागने लगे। इसी बीच वाहन रोकने के लिए डीएसपी सुरेंद्र सिंह आगे आए तो डंपर चालक ने उनके ऊपर वाहन चढ़ा दिया और भाग गया। टायर के नीचे आने से डीएसपी की मौके पर ही मौत हो गई।

 

 

 

 

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.