• एसडीएम डॉ जितेंद्र अहलावत ने  किया योग कार्यक्रम का शुभारंभ
  • आत्मा को परमात्मा से जुड़ने की कला सिखाता है योग: डॉ जितेंद्र अहलावत

हांसी : आजादी के अमृत महोत्सव के तहत स्थानीय राजकीय वरिष्ठ मॉडल संस्कृति विधालय में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य पर योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। एसडीएम डॉ जितेंद्र सिंह अहलावत ने कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत की। योग कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के अधिकारी ,कर्मचारी, क्षेत्र के कई गणमान्य व्यक्ति तथा विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों ने योग साधक के रूप में शामिल हुए।

      डॉ जितेंद्र सिंह अहलावत ने योग साधकों को आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि निरोग जीवन जीने के लिए योग को अपनाना होगा। योग एक ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा लगभग सभी प्रकार की शारीरिक बीमारियों को जड़ से खत्म किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि योग एवं प्राणायाम करने से न केवल तन बल्कि मन भी स्वस्थ रहता है। उन्होंने कहा कि योग का आध्यात्मिक महत्व भी काफी विस्तृत है। योग को अगर सही ढंग से उचित समय तक किया जाए तो व्यक्ति  चमत्कारिक परिणाम हासिल कर सकता है। उन्होंने कहा कि योग आत्मा को परमात्मा से जोड़ने की विधि सिखाता है । इस दौरान योग प्रशिक्षकों द्वारा योग साधकों को योगा आसन एवं प्राणायाम करवाए गए। एसडीएम डॉ जितेंद्र सिंह ने भी योग एवं प्राणायाम किए। इस अवसर पर बीडीपीओ धर्मपाल, विद्यालय के प्रधानाचार्य राजेश कुमार ,आयुष विभाग से डॉ तनुप्रिया, सीडीपीओ मीना नागपाल, लेक्चरर राजीव कौशिक, ए एफ़ एस ओ अशोक कुमार , कमल किशोर शास्त्री, एसडीएम कार्यालय की स्टेनो संतोष गिल, पतंजलि योग समिति से योगाचार्य राजीव कुमार, भारत स्वाभिमान मंच के अध्यक्ष प्यारे लाल सैनी, राम कुमार लांबा, पतंजलि योग समिति से शमशेर सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.