बाबा मोशन पिक्चर्स के बैनर तले निर्माता प्रदीप के शर्मा की फ़िल्म ‘डार्लिंग’ की शूटिंग इन दिनों अयोध्या में जारी है। इसी बीच फ़िल्म के निर्देशक सह संगीतकार रजनीश मिश्रा ने अभिनेत्री अक्षरा सिंह को लेकर कहा कि वे इंडस्ट्री की एकमात्र सिंगल फीमेल रॉक स्टार हैं, जिनसे लोगों को प्रेरणा लेनी चाहिए। रजनीश  ने कहा कि उनके पास अपनी सुरीली आवाज है। ये दुनिया जानती है। उनके खुद के हिट एलबम्स हैं। गाने गाती है। स्टेज परफॉर्म करती हैं। हमारी फ़िल्म ‘डार्लिंग’ की कहानी उनसे ही प्रेरित है।

रजनीश मिश्रा ने बताया कि अक्षरा व्यवहार कुशल तो हैं, काम के प्रति समर्पित और समय की पाबंद भी हैं। डार्लिंग हम दोनों की पहली फ़िल्म है और इसमें वे इतनी सहज नज़र आईं कि लगा मानो हम पहले कई फिल्मों की शूटिंग कर चुके हैं। रजनीश मिश्रा ने बताया कि फ़िल्म के सेट पर भी उनके कोई बहाने नहीं हैं। हम फ़िल्म डार्लिंग के लिए एक बारिश सिक्वेंस शूट कर रहे थे, जिसमें कुछ परेशानी आ रही थी। फिर भी उनके चेहरे पर शिकन तक नहीं आई और उन्होंने अपना काम पूरा किया। मुझे लगता है अक्षरा का यही अप्रोच उनकी सफलता की कुंजी है।

रजनीश कहते हैं कि अक्षरा सिंह म्यूजिक की भी अच्छी खासी समझ रखती हैं। ये बात मैं पहले से जनता हूँ। वह मेरी पुरानी दोस्त रही हैं और एक म्यूजिक डायरेक्टर के रूप में मुझे एप्रिशिएट भी करती रहीं हैं। मैं आपको बताऊँ, जब मैं फ़िल्म मेहंदी लगा के रखना कर रहा था, उस फिल्म की सिटिंग में अक्षरा भी थीं। तब उस फिल्म के कुछ गाने ‘बलमुआ हो तोहरे से प्यार हो गइल’ व अन्य दूसरे गाने लोगों को पसंद नहीं आये थे। यहां तक कि फ़िल्म के हीरो खेसारीलाल यादव को भी पसंद नहीं आये थे, लेकिन तब भी अक्षरा को इन गानों पर भरोसा था। उन्होंने मुझसे कहा कि सर ये गाने बहुत अच्छे हैं। ये हंड्रेड परसेंट हिट होंगे। और जब फ़िल्म रिलीज हुई, तो इतिहास बन गया। फ़िल्म के सभी गाने चार्टबस्टर हुए। ये अक्षरा के म्यूजिक की समझ थी। उन्होंने कहा कि इसलिए हमने अपनी फ़िल्म डार्लिंग के लिए अक्षरा को चुना, जिनके साथ मैं पहले भी काम करना चाहता था। अब मुझे भोजपुरी के दर्शकों पर भरोसा है कि वे फ़िल्म डार्लिंग को अपनी डार्लिंग बनाएंगे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.